Spirituality

आज करे भगवान शिव को प्रसन्न भर जाएँगी झोली खुशियों से , जानिए शिव पूजा का महत्व

कहा जाता है कि शिवजी को प्रसन्न करने के लिए सावन माह में उनका विशेष पूजन करना चाहिए. इस पूजा-अर्चना के दौरान आपको उनसे मनचाहा वरदान पाने के लिए कुछ खास चीजों को अर्पण करना चाहिए | शास्त्रों में बताया गया है कि सावन महीना भगवान शिव का माह है। हिन्दी पंचांग के सभी बारह महीनों में श्रावण मास का विशेष महत्व माना जाता है, क्योंकि ये शिव जी की भक्ति का महीना है। इस महीने में भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए भक्त कई उपाय, अनेक मंत्र, स्तुति व स्रोतों का जाप करते हैं। सावन में हर रोज ऐसा करने से सभी समस्याओं का अंत हो जाता है।

सावन के इस भीगे-भीगे मौसम जितना इंसानों के मन को मोह लेता है उतना ही प्रिय मौसम ये भगवान के लिए भी माना जाता है. कहते हैं ये सावन का महीना भगवान शिव को अत्यंत ही पसंद है इसिलिय ये भी माना जाता है कि इस माह में भगवान शिव की पूजा करने से भगवान लोगों की गरीबी और परेशानियों को दूर कर देतें हैं. बताया जाता है कि शिवपुराण के अनुसार अगर सावन के माह में शिव जी की पूजा और उनके मंत्रो का जाप किया जाए तो अपार धन और ऐश्वर्य मिलता है। साथ ही, सारी परेशानियां दूर हो जाती हैं।

बहुत खास हे इस बार का सावन माह : संक्रांति की गणना के मुताबिक इस साल सावन के महीने में रोटक व्रत लग रहा है. शास्त्रों के अनुसार जिस साल सावन में 5 सोमवार होते हैं, उस साल रोटक व्रत लगता है. मान्यता के अनुसार रोटक व्रत यानी 5 सोमवार व्रत रखने वालों की भगवान शिव और माता पार्वती सभी इच्छाएं पूरी करते हैं.

सावन के सोमवार में करे भगवान शिव को प्रसन्न : सावन महीने के प्रत्येक सोमवार को शिव की पूजा करनी चाहिए। इस दिन व्रत रखने और भगवान शिव के ध्यान से विशेष लाभ प्राप्त किया जा सकता है। यह व्रत भगवान शिव की प्रसन्नता के लिए किये जाते हैं। व्रत में भगवान शिव का पूजन करके एक समय ही भोजन किया जाता है। साथ ही साथ गले में गौरी-शंकर रूद्राक्ष धारण करना भी शुभ रहता है।

कावड़ से करे शिव अभिषेक :  सावन के महीने में भक्त, गंगा नदी से पवित्र जल या अन्य नदियों के जल को मीलों की दूरी तय करके लाते हैं और भगवान शिव का जलाभिषेक करते हैं। कलयुग में यह भी एक प्रकार की तपस्या और बलिदान ही है, जिसके द्वारा देवो के देव महादेव को प्रसन्न करने का प्रयास किया जाता है।

 

Facebook Comments
Tags
Show More
Close