Vishesh

भूलकर भी कभी ना बोले स्त्रियों को यह 2 बातें , वरना जीवन भर पछतावा रहेगा

भारत में स्त्रियों को सदियों से सम्मान दिया जाता हे , यहाँ स्त्री को माता के रूप में पूजा की जाती रही हे , स्त्रियों को देवी का दर्जा प्राप्त है और एक स्त्री ही है जो मां बहन और बीबी का रूप है। यही स्त्री घर को स्वर्ग और नर्क दोनों बना सकती है। स्त्रियों के अंदर वे गुण हैं जिसकी हम कल्पना भी नही कर सकते। आज हम आपको 2 ऐसी बातों को बताएंगे जिसे भूल कर भी कभी किसी स्त्री से नही कहना चाहिए अन्यथा हो सकता है आपको काफी समस्याओं का सामना करना पड़ जाए। आइये जानते हैं वे 2 बातें क्या हैं।

1. कभी भी भूलकर भी किसी स्त्री को बांझ नही कहना चाहिए। ये जरूरी नही है कि सभी स्त्रियाँ मां ही बन जाये। कई बार स्त्रियों के अंदर कुछ नेचुरल कमी के कारण वो मां नही बन पाती और इसमें किसी भी स्त्री का कोई दोष नही है। ऐसे में जब आप ऐसी स्त्री को बांझ कह कर बुलाते हैं तो उस स्त्री को बहुत ही दुख होता है और हो सकता है दुख के गम में उसने यदि आपको बद्दुआ दे दिया तो सारी जिंदगी आपको भुगतना पड़ सकता है। इनकी बददुवाएं कभी खाली नही जाती क्योंकि ये दिल से बद्दुआ देती हैं।

2. इस दुनिया मे सभी महिलाएं शौक से वेस्या का काम नही करती। इसमें जरूर उनकी कोई मजबूरी होती है तभी वो ऐसे गलत रास्ते पर निकल पड़ती है। इसलिए कोई भी स्त्री भले ही वो वेस्या क्यों न हो खुद के लिए ये सुनना बिल्कुल पसंद नही करेगी कि आप उसे ऐसा शब्द कहें। ये उनकी मर्जी है उन्हें उनके हाल पर छोड़ दें अन्यथा हो सकता है उसके जुबान से आपके लिए कोई बद्दुआ निकल जाए और आपको सारी जिंदगी सिर्फ एक शब्द कहने के लिए भुगतना पड़ जाए।

मित्रों हम सब को अपने जीवन में कभी भी यह 2 बाते किसी स्त्री को नहीं बोलनी चाहिए , अन्यथा कभी ना कभी हमको शर्मिंदा होना ही पड़ता हे | 

Facebook Comments
Show More
Close